आज मन उदास है..

आज मन उदास है
न कोई अपना खास है
न कुछ अपने पास है
पाने को उसको हरदम ,
कर रहा ये दिल प्रयास है
तोड़ देता है  एक झटके में कोई जो कुछ तेरी अर्धास है
फँसता जा रहा हूँ इस भँवर में ये जगत एक रास है
बुझ रहा सीने में मेरे आज हर एक एहसास है
आज मन उदास है …२

#एहसास
– पंकज मिश्रा

image

Advertisements